Home क्रिकेट TATA IPL 2022 :- क्या हुआ था यजुवेंद्र चहल के साथ...

TATA IPL 2022 :- क्या हुआ था यजुवेंद्र चहल के साथ 2011 में ? फ्रेंकलीन और ऐंड्रयु साइमंडस ने क्या किया कि हो रही जाॅच कि मांग ।

Yuzvendra-Chahal
Yuzvendra-Chahal

साल 2013 में यजुवेंद्र चहल को 15वीं मंजिल के बालकनि से लटकाने बाला मामला के आने के बाद अब एक नया ममला प्रकाश में आया है । साल 2011 में यजुवेंद्र चहल के साथ शारीरीक शोषन का । 2011 में यजुवेंद्र चहल मुम्बई इंडियंस का हिस्सा थे और उस वक्त बैंगलोर के किसी होटल में ये ठहरे हुए थे ।


यजुवेंद्र चहल के साथ उस वक्त मुम्बई इंडियंस के उनके साथि खिलाड़ि जेम्स फ्रेंकलिन और अस्ट्रेलिया के आॅलराउंडर ऐंड्रयु साइमंडस भी उनके साथ उस होटल में रूके हुए थे । चैंपियंस लिग फाइनल के बाद दोनो खिलाड़ियों ने मिल कर यजुवेंद्र चहल का शारीरीक शोषन करते हुए उनका मुॅह टेप से बंद कर दिया था ।


चहल ने घटना का जिक्र करते हुए बताया कि यह घटना 2011 कि है जब मुम्बई इंडियंस ने चैपियन लिग जिती थी और सब पार्टी कर रहे थे । इस दौरान जेम्स फ्रेंकलिन और अस्ट्रेलिया के आॅलराउंडर ऐंड्रयु साइमंडस ने बहुत ज्यादा नशा किया हुआ था और दोने ने मिलकर उनके हाथ-पैर बांध दिया, और बोला कि अब खोल कर दिखओं ।


इतना ही नहीं उन दोनो हाथ पैर तो बांधे ही साथ ही साथ मुॅह पर टेप भी चिपका दिया और चहल को एक कमरे में छोड़ दोनो पार्टि मनाने निकल गये । और वे इस दौरान बिल्कुल ही भुल गये कि उन्होंने किसी को इस तरह छोड़ कर आये है । चहल ने बताया कि वे सारी रात इसी तरह उस कमरे में परे रहें, और इंतजार करते रहें कि अब कोइ आकर उनको आजाद कराऐगा ।


चहल ने आगे बताया कि सुबह जब सफाई कर्मि आया, और उनको इस अवस्था में देखा तो वो दंग रह गया । फिर उसने कुछ और लोगों को वहां बुलाया दिखाया फिर उनलोगोक ने मुझे वहां से उस परिस्थिति से आजाद कराया । चहल के इस बयान के बाद इंग्लिस काउंटी टीम हरकत में आ गयी है और उन्होंने जेम्स फ्रेंकलिन के खिलाफ जो कि अभी इंग्लिस काउंटी क्रिकेट में कोच कि भुमिका निभा रहे है जाॅच के आदेश दिये हैं ।


जेम्स फ्रेंकलिन 2011 से 2013 तक मुम्बई इंडियंस का हिस्सा थे । फिर 2019 के शुरू में उन्होंने काउंटी टीम डरहम को कोच कि भुमिका में ज्वाइन किया । जेम्स फ्रेंकलिन के नाम विश्व क्रिकेट में हैट्रिक विकट लेने का रीकाॅर्ड भी दर्ज है । यह कारनामा इन्होंने बंग्लादेश के खिलाफ किया था । वे बैटिंग भी अच्छा कर लेते थे, वे टीम में पावर हीटर कि भुमिका में रहते थे ।