Home क्रिकेट IND vs ENG: पूर्व इंग्लिश दिग्गज ने इंग्लैंड की टीम को स्पिन...

IND vs ENG: पूर्व इंग्लिश दिग्गज ने इंग्लैंड की टीम को स्पिन गेंदबाजी खेलने का दिया तगड़ा मंत्र, अगर इसे अपनाया तो Team India के स्पिनर्स का हो जाएगा बुरा हाल

IND vs ENG: भारत और इंग्लैंड (India vs England) के बीच 5 मैचों की टेस्ट सीरीज (5 Match Test Series) 25 जनवरी से शुरू होने जा रही है। इस टेस्ट सीरीज पर इन दिनों पूरे क्रिकेट जगत की नजरें टिकी हुई हैं। इस टेस्ट सीरीज में भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) का पलड़ा पूरी तरह से भारी माना जा रहा है, जहां मेहमान टीम इंग्लैंड के लिए टीम इंडिया (Team India) के स्पिनर्स का सामना करना किसी बड़ी चुनौती से कम नहीं माना जा रहा है। भारत (India) में स्पिन ट्रेक विकेट पर अंग्रेज बल्लेबाजों को काफी दिक्कतों हो सकती हैं।

IND vs ENG
Team India Spinners

इंग्लैंड के बल्लेबाजों को केविन पीटरसन ने बताया स्पिन बॉलिंग खेलने का अचूक प्लान

भारत में आने वाली विरोधी टीमों के लिए यहां की स्पिन ट्रेक पर खेलना कभी भी आसान नहीं रहा है। ऐसे में इंग्लिश बल्लेबाजों को एक बड़ी चुनौती मिलने वाली है। टीम इंडिया में आर अश्विन, रवीन्द्र जडेजा, अक्षर पटेल के साथ ही कुलदीप यादव जैसे विश्वस्तरीय स्पिन गेंदबाज हैं। जिनके सामने बड़े से बड़े बल्लेबाज चकमा खा जाते हैं। इंग्लैंड के लिए इस बड़ी चुनौती के बीच इंग्लैंड के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी केविन पीटरसन ने एक तगड़ा और जबरदस्त प्लान बताया है जिससे अश्विन और जडेजा जैसे स्पिन गेंदबाजों का मुकाबला किया जा सकता है।

IND vs ENG
R Ashwin-Ravindra Jadeja

ये भी पढ़े-ICC World Test Championship 2023-25:ऑस्ट्रेलिया ने वेस्टइंडीज को मात देकर पॉइंट टेबल में बनायी मजबूत स्थिति, जानें भारत कहां पर स्थित

अपने डिफेंस को मजबूत कर भारत में हासिल की जा सकती है सफलता

इंग्लैंड के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज और कप्तान रहे केविन पीटरसन ने इंग्लैंड के बल्लेबाजों को टीम इंडिया के स्पिनर्स को मजबूती से सामना करना और इनकी फिरकी से निपटने के लिए अपने डिफेंस को मजबूत करने की सलाह दी। पीटरसन ने कहा कि, भारत के दौरे पर बल्लेबाजों को अपना डिफेंस मजबूत करना होगा, जैसा कि उन्होंने 2012-13 के भारत दौरे पर नेट प्रैक्टिस के दौरान घंटों मेहनत कर डिफेंस पर काम करके कामयाबी हासिल की थी।

स्पिनर्स के खिलाफ बैकफुट पर डिफेंस खेलने में कुछ गलत नहीं

पीटरसन ने आगे कहा कि, मेरे अलावा जो रूट और जॉनी बेयरस्टो हर समय नेट पर अपने डिफेंस पर काम करते थे। हम फ्रंटफुट पर नहीं खेलने का अभ्यास करते थे। हमारी कोशिश कर गेंद को आफ साइड पर खेलने की होती थी। डिफेंसिव खेलने में कुछ गलत नहीं है । डिफेंस मजबूत होने से ही आप आक्रामक होकर खेल सकते हैं। स्ट्रेट खेलना और फ्रंटफुट आगे नहीं लाना, गेंद का इंतजार करना यह सब बहुत जरूरी है।

अश्विन और जडेजा का भी सही तकनीक से किया जा सकता है सामना

इसके साथ ही केविन पीटरसन ने भारत की स्पिन जोड़ी आर अश्विन और रवीन्द्र जडेजा को हैंडल करने का भी मंत्र दिया, जिसमें उन्होंने बड़ी बात करते हुए कहा कि,

अश्विन की दूसरा गेंद का निकाल लिया था तोड़

मैंने अश्विन की दूसरा पकड़ ली थी। वह अपने रनअप की शुरुआत से पहले ही गेंद से एक्शन बना लेते हैं। वह एक आफ स्पिनर की तरह गेंद हाथ में लेकर नहीं दौड़ते और बाद में इसे बदलकर दूसराफेंकते हैं। मुझे 100 फीसदी यकीन रहता था कि वह दूसरा कब डालेंगे। मैंने उनकी इस गेंद पर कई बार शॉट खेले हैं। वहीं इंग्लिश दिग्गज ने आगे रवीन्द्र जडेजा की गेंदों को खेलने को लेकर कहा कि, मैंने जडेजा को भी काफी खेला है। वह मुरली या शेन वॉर्न नहीं है। वह बायें हाथ का स्पिनर है और एक तरीके से गेंद डालता है। अगर आपकी तकनीक मजबूत है तो उसे खेलने में दिक्कत नहीं आएगी।