Home क्रिकेट आईसीसी क्रिकेट टी20 विश्व कप 2022 T20WC 2022: टीम इंडिया की करारी हार से बिफरे कप्तान रोहित शर्मा,...

T20WC 2022: टीम इंडिया की करारी हार से बिफरे कप्तान रोहित शर्मा, अपने गेंदबाजों को लेकर कह दी चौंकानें वाली बात

T20WC 2022: भारतीय क्रिकेट टीम की एक बार फिर से टी20 विश्व कप जीतने का सपना तब चकनाचूक हो गया, जब गुरुवार को इंग्लैंड के हाथों शर्मनाक हार का सामना किया। टीम इंडिया की नजरें 15 साल के बाद टी20 विश्व कप खिताब पर थी, लेकिन ऑस्ट्रेलिया में खेले जा रहे टी20 विश्व कप के 8वें संस्करण में एक ही इंग्लैंड ने सेमीफाइनल मुकाबले में एक झटके में इन उम्मीदों को तोड़ दिया

ROHIT SHARMA
ROHIT SHARMA (Source_ Getty Images)

भारत को सेमीफाइनल में इंग्लैंड ने दी करारी हार

सेमीफाइनल के इस बड़े मंच पर इंग्लिश टीम ने टीम इंडिया को एक ऐसी हार थमा दी, जो आने वाले कई सालों तक हर किसी भारतीय फैंस के जेहन में कचोटती रहेगी। एडिलेड में खेले गए इस मैच में भारत को इंग्लैंड ने 10 विकेट से करारी शिकस्त दे डाली।

IND VS ENG T20WC 2022(Source_ Getty Images)

मैच शुरु होने से पहले फैंस को रोहित शर्मा की अगुवायी में खेल रही टीम से काफी आस थी, हर कोई रविवार को पाकिस्तान के खिलाफ फाइनल मैच खेलने के बारे में सोच रहा था, लेकिन इंग्लैंड ने एक ऐसा सबक सिखाया जो सालों तक याद रहेगा।

ये भी पढ़े- T20WC 2022, IND vs ENG: दूसरे सेमीफाइनल मैच में इंग्लैंड के आगे टीम इंडिया धराशायी, इंग्लैंड ने 10 विकेट से दी शर्मनाक हार, जानें कैसा रहा मैच का हाल

शर्मनाक हार पर रोहित शर्मा का निकला गुस्सा

एडिलेड ओवर में खेले गए इस सेमीफाइनल मैच में भारत ने 168 रनों का स्कोर खड़ा किया था, लेकिन गेंदबाजों के लचर प्रदर्शन से इस स्कोर को इंग्लैंड ने केवल 16 ओवर में बिना कोई नुकसान के हासिल कर लिया। इस शर्मनाक हार के बाद टीम के कप्तान रोहित शर्मा काफी ज्यादा ही आहत हुए हैं।

हिटमैन मैच के बाद टीम पर काफी ज्यादा गुस्से में दिखे। उन्होंने खासकर गेंदबाजों को खूब आड़े हाथों लेते हुए दो-टूक अंदाज में कह दिया कि मैदान में उन्हें दबाव को कैसे झेलना है ये तो नहीं सिखाया जा सकता है।

नहीं सिखाया जा सकता खिलाड़ियों को दवाब को झेलना- रोहित शर्मा

इंग्लैंड से मिली हार के बाद कैप्टन रोहित शर्मा ने कहा कि, हां निश्चित रूप से यह निराशाजनक है। मुझे लगा कि हमने अच्छी बल्लेबाजी की लेकिन हमने गेंद के साथ अच्छा नहीं किया। यह ऐसा टोटल नहीं था, जहां एक टीम बिना विकेट गंवाए इसका पीछा कर सकती थी।

देखिए, मुझे लगता है कि जब नॉकआउट राउंड की बात आती है, तो यह खुद पर भी निर्भर करता है। आप उन्हें दबाव को झेलना नहीं सिखा सकते। उन्होंने पहले इसे झेला हुआ है। वे आईपीएल खेल रहे हैं। इनमें से कुछ लोग इसे संभाल सकते हैं।