Home क्रिकेट न्यूज़ IND vs SA: विराट कोहली ऐसे ही नहीं बने हैं महान खिलाड़ी,...

IND vs SA: विराट कोहली ऐसे ही नहीं बने हैं महान खिलाड़ी, एक बार फिर टीम के लिए दी बड़ी कुर्बानी, जानकर आप भी हो जाएंगे कायल

1572

भारतीय क्रिकेट टीम के दिग्गज बल्लेबाज विराट कोहली आज के दौर के सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक हैं। इस खिलाड़ी ने पिछले करीब एक दशक से भी ज्यादा समय से अपने कीर्तिमानों से एक खास मुकाम हासिल किया है। उन्होंने एक के बाद एक रिकॉर्ड्स की जो फेहरिस्त खड़ी की है वो उन्हें सर्वकालिन महान बल्लेबाजों में से एक बनाता है।

Virat Kohli
Virat Kohli(Source_Hindustan Times)

विराट कोहली का टीम के हित में बड़ा बलिदान

किंग कोहली विश्व क्रिकेट के किंग केवल अपनी बल्लेबाजी या कप्तानी से नहीं बने हैं, बल्कि उन्होंने कप्तानी और बल्लेबाजी के साथ ही टीम के हित में बलिदान भी खूब दिए हैं, जिसकी एक बानगी एक बार फिर से दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टी20 मैच में देखने को मिली।

3 मैचों की टी20 सीरीज के गुवाहाटी में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले गए दूसरे मैच में इस स्टार बल्लेबाज ने एक और शानदार पारी खेली, इस दौरान उन्होंने टीम के हित में अपने नाम एक व्यक्तिगत रिकॉर्ड का भी बलिदान दे दिया। जो जानकर आप भी इस महान बल्लेबाज की तारीफ करने से नहीं चुकेंगे।

अपनी फिफ्टी को नजरअंदाज कर टीम के हित का रखा ध्यान

इस मैच में केएल राहुल और सूर्यकुमार यादव की तूफानी पारी के बाद विराट कोहली ने भी जबरदस्त बल्लेबाजी की। उन्होंने अंत तक नाबाद रहते हुए 28 गेंदों में 49 रनों की पारी खेली। यहां उनके पास अपने टी20 इंटरनेशनल करियर की 34वीं फिफ्टी जड़ने का मौका था, लेकिन टीम के हित को ध्यान में रखते हुए उन्होंने इसका त्याग कर दिया।

कार्तिक दे रहे थे स्ट्राइक, कोहली ने कर दिया मना

अब पूरा मामला आपको हम बताते हैं। दरअसल भारतीय टीम की पारी के अंतिम यानी 20वें ओवर में कोहली और कार्तिक की जोड़ी बीच मैदान में थी। कगिरो रबाडा की गेंद पर दिनेश कार्तिक स्ट्राइक पर थे, उन्होंने पहली गेंद डॉट रहने के बाद दूसरी गेंद पर चौका जड़ा। इसके बाद कार्तिक ने चौथी गेंद पर भी छक्का जड़ दिया। डीके 5वीं गेद का सामना करने से पहले कोहली के पास पहुंचे और स्ट्राइक देने की बात कही, जिससे वो अपना पचासा पूरा कर सके।

लेकिन कोहली ने टीम के हित में ध्यान में रखते हुए कार्तिक को ही बड़े शॉट्स लगाने को कहा। इसके बाद डीके के बल्ले से 5वीं गेंद पर भी छक्का निकला और अंतिम गेंद पर बाय के रूप में 1 रन मिला। विराट ने मौका मिलने के बाद भी अपनी फिफ्टी का त्याग कर टीम के हित का ध्यान दिया। जिससे उनकी खूब प्रशंसा हो रही है।