Home क्रिकेट आईसीसी क्रिकेट टी20 विश्व कप 2022 T20WC 2022: अब तक 12 दिन, 24 मैच और हो चुके हैं...

T20WC 2022: अब तक 12 दिन, 24 मैच और हो चुके हैं 5 अपसेट्स, क्या बदल रहे हैं समीकरण?

ऑस्ट्रेलिया की सरजमीं पर आईसीसी टी20 विश्व कप 2022 का कारवां लगातार आगे की तरफ अग्रसर है। ये कारवां 16 अक्टूबर को शुरू हुआ था, पहले तो यहां क्वालिफायर राउंड खेला गया, जिसके बाद 22 अक्टूबर से सुपर-12 के दूसरे राउंड का आगाज हुआ। अब तक यानी गुरुवार 27 अक्टूबर तक इस टूर्नामेंट को शुरु हुए महज 12 दिन ही हुए हैं, जिस बीच एक से एक अप्रत्याशित परिणाम सामने आ रहे हैं।

ENG VS IRE
ENG VS IRE(Source_Getty Images)

ये टी20 विश्व कप काफी दिलचस्प होता जा रहा है, क्योंकि अब तक इन 12 दिनों में खेले गए 24 मैचों में 4 छोटी और कमजोर आंकी जाने वाली टीमों ने 4 बड़ी और प्रबल दावेदार की सूची में शामिल टीमों को 5 बार उलटफेर का शिकार बनाते हुए हर किसी को हैरान कर दिया है।

इस इवेंट में फेवरेट टीमों की बात करें तो टीम इंडिया के साथ ही मेजबान टीम ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, पाकिस्तान जैसी टीमों को माना जा रहा है। लेकिन इनमें से 2 बड़ी टीमें लगभग आधे सफर में ही व्यथित समय का सामना कर चुकी है, जिसमें पहले जहां मोस्ट फेवरेट इंग्लैंड टीम को बुधवार को आरयलैंड ने डकवर्थ-लुईस नियम के आधार पर 5 रन से मात दी वहीं इसके ठीक अगले दिन यानी गुरुवार को पाकिस्तान को जिम्बाब्वे जैसी एक हल्की टीम ने 1 रन से रोमांचक अंदाज में हरा दिया। इन दो बड़ी टीमों को 2 दिन के भीतर ही एसोसिएट देशों में शामिल टीम ने जोरदार झटका देने के साथ ही इस विश्व कप के समीकरण को भी बदलने के संकेत दे दिए हैं।

PAK VS ZIM (Source_Getty Images)

इस सुपर-12 के रोमांच से पहले क्वालीफायर राउंड में छोटी टीमों के हाथों श्रीलंका और वेस्टइंडीज ने भी उलटफेर का सामना किया है। जहां श्रीलंका को नामीबिया ने मात दी तो वहीं दो बार की विश्व चैंपियन वेस्टइंडीज को पहले राउंड के 3 मैचों में ही स्कॉटलैंड और आयरलैंड जैसी मामूली टीमों ने हराते हुए दूसरे राउंड में खेलने के सपने को ही तोड़ कर रख दिया।

वैसे किसी बड़े टूर्नामेंट्स में छोटी और कमजोर टीमों के द्वारा किसी किसी बड़ी ब्रांड टीम को उलटफेर का शिकार बनाना कोई नई बात नहीं है, लेकिन एक ही टूर्नामेंट जहां अभी सफर करीब-करीब आधा ही हुआ है और इस दौरान 4 विश्व कप चैंपियन टीमें 5 बार व्यथित समय का शिकार हो, ऐसा पहली बार देखने को मिल रहा है।

अब आपको हम सिलसिलेवार रूप से टी20 विश्व कप चैंपियन टीमों को लगे झटके से रूबरू करवाते हैं, जिसमें सबसे पहले 2014 की चैंपियन श्रीलंका को नामीबिया ने पहले राउंड में हराकर अप्रत्याशित जीत हासिल की। इसके बाद पहले ही राउंड में 2012 और 2014 की दो बार की चैंपियन होने के साथ ही इस फॉर्मेट की सबसे खतरनाक टीमों में से एक वेस्टइंडीज को स्कॉटलैंड और आयरलैंड ने जोरदार झटका दिया।

पहले राउंड के बाद सुपर-12 के दूसरे राउंड में प्रबल दावेदार टीमें शामिल हुई, जिनके बारे में किसी ने सोचा नहीं था कि ये भी छोटी एसोसिएट टीमों से मात खाएंगी, लेकिन कहते हैं ना क्रिकेट अनिश्चिताओं का खेल हैं, जहां एक के बाद एक पहले 2010 की चैंपियन इंग्लैंड को यूरोपियन टीम आयरलैंड ने हराकर सनसनी फैला दी, इसके ठीक एक दिन बाद 2009 की विजेता पाकिस्तान को जिम्बाब्वे ने हराकर इस टूर्नामेंट को बहुत ही दिलचस्प मोड़ पर खड़ा कर दिया है।

इन 12 दिन के 24 मैचों के सफर में हुए 5 उलटफेर ने 2022 के विश्व कप को बहुत ही रोमांचक बना दिया है, जिसने समीकरण ही बदलने की दिशा में अपना काम करना शुरु कर दिया है।

क्योंकि चलिए हम वेस्टइंडीज की बात नहीं करते हैं, क्योंकि वो तो पहले ही राउंड में बाहर हो गए। वहीं श्रीलंका की चर्चा भी ज्यादा नहीं हो सकती, क्योंकि उन्हें भी फेवरेट में नहीं मान सकते हैं, लेकिन जिस तरह से इंग्लैंड और पाकिस्तान की संभावना खिताब जीतने की देखी जा रही हैं, वो काफी प्रबल हैं, लेकिन अब ग्रुप-1 में जहां इंग्लिश टीम की सेमीफाइनल में पहुंचने की डगर मुश्किल हो चली है, वहीं ग्रुप-2 में पाकिस्तान के भी अंतिम चार में पहुंचने की संभावना को करारा झटका लगा है।

ऐसे में क्या हम ये नहीं कह सकते कि इस बार इन हुए अपसेट्स के बाद सेमीफाइनल के समीकरण बदल सकते हैं। वैसे अभी ये कहना जल्दबाजी होगा कि इंग्लैंड और पाकिस्तान सेमीफाइनल में प्रवेश नहीं कर सकते हैं, लेकिन उन्हें अगले राउंड में पहुंचने के लिए इन छोटी टीमों से मिले झटके के कारण काफी मुश्किलें होने वाली हैं। अब ये देखना दिलचस्प हो गया है कि आखिर कौनसी वो 4 टीमें होंगी जो अपने आपको सेमीफाइनल की दौड़ में सबसे आगे रख पाएंगी। क्योंकि मौजूदा परिस्थितियों ने तो क्रिकेट पंडित के अनुमानों को ही झटका दे दिया है।