Home क्रिकेट आईसीसी क्रिकेट टी20 विश्व कप 2022 T20WC 2022: 9 साल से जारी इस असफलता पर खुद कप्तान रोहित...

T20WC 2022: 9 साल से जारी इस असफलता पर खुद कप्तान रोहित को भी है अफसोस, जानें वो कौनसी है वो बात

1174

T20WC 2022: साल 2007 से 2013 ये वो दौर था जिसमें इन 6 साल के दौरान टीम इंडिया ने एक के बाद एक आईसीसी की 3 प्रतिष्ठित टूर्मामेंट को अपने नाम किया। 2007 में टी20 विश्व कप का खिताब, तो 2011 में वनडे विश्व कप की ट्रॉफी, इसके बाद 2013 में मिनी वर्ल्डकप यानी चैंपियंस ट्रॉफी के भी चैंपियन बने। पूरे क्रिकेट जगत ने इस दौरान भारतीय क्रिकेट का ये जलवा देखा।

Rohit-sharma
Rohit-sharma(Source_PTC News)

भारतीय क्रिकेट टीम 9 साल से नहीं जीत सकी है कोई आईसीसी टूर्नामेंट

लेकिन इसके बाद तो ये जलवा जादू की तरह छू-मंतर हो गया है, क्योंकि एक के बाद एक साल दर साल बितते जा रहे हैं, लेकिन मैन इन ब्ल्यू की झोली आईसीसी टूर्नामेंट के खिताब से पूरी तरह से खाली है। 9 साल से आईसीसी इवेंट जीतने का सूखा छाया हुआ है। जिसकी छटा लगातार बढ़ती जा रही है।

हर बार आईसीसी के बड़े टूर्नामेंट में भारतीय क्रिकेट टीम को सबसे प्रबल दावेदार माना जाता है, हर बार फैंस को चमचमाती ट्रॉफी जीतने की उम्मीद रहती है, लेकिन हर बार इस सपनें के पूरा होने का इंतजार लंबा हो जाता है।

कप्तान रोहित शर्मा ने माना 9 साल से नहीं जीत पाना रहा है चुनौती

ऑस्ट्रेलिया में आईसीसी टी20 विश्व कप 2022 का आगाज हो चुका है, जिसमें रोहित शर्मा की कप्तानी में टीम इंडिया को इस बार सूखे को खत्म करने की पूरी उम्मीद है। भारत आज से पाकिस्तान के खिलाफ अपने अभियान की शुरुआत करने जा रही है।

इस मैच से ठीक पहले पूर्व संध्या पर प्रेस कॉन्फ्रेंस में कप्तान रोहित शर्मा ने भी 9 साल से आईसीसी टूर्नामेंट को नहीं जीत पाने का जिक्र किया। उन्होंने इसे लेकर कहा कि, हां, अगर मैं गलत नहीं हूं तो नौ साल तक आईसीसी ट्रॉफी नहीं जीतना एक चुनौती है। पिछली बार हमने 2013 में आईसीसी ट्रॉफी जीती थी। यह हम जैसी टीम के साथ एक चुनौती रही है, हम से बहुत सारी उम्मीदें जुड़ी हुई है, हम इस विफलता से काफी निराश हैं। यह टी-20 विश्व कप हमें अपनी निराशा से बाहर आने, अच्छा प्रदर्शन करने और इस इतिहास को बदलने का मौका दें रहा है।

हमें करना होगा अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन

उन्होंने अपनी टीम को सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने पर जोर देते हुए कहा कि हम निश्चित रूप से जानते हैं कि हमें इस टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट खेलना होगा। हमें एक बार में एक मैच के बारे में ही सोचना होगा, और आगे बढ़ना होगा। मैं दबाव नहीं कहना चाहता, लेकिन हमारे लिए आईसीसी टूर्नामेंट में टॉप पर आना निश्चित रूप से एक बड़ी चुनौती रही है।

हां, मैं मानता हूं हम ऐसा प्रदर्शन नहीं कर पाए जैसा हम आईसीसी टूर्नामेंटों में करना चाहते थे, खासकर बड़े मैचों में, लेकिन मेरा मानना है कि आपको हमेशा खुद को साबित करने का मौका मिलता है। हमारे सामने यह अवसर, ऑस्ट्रेलिया में अच्छा प्रदर्शन करने और खिताब जीतने का, इसलिए मुझे लगता है कि हमें कुछ चीजों पर ध्यान देना होगा, और सुधार करना होगा।