Home क्रिकेट DHONI-KOHLI CONTROVERSY: विराट कोहली और महेन्द्र सिंह धोनी के बीच 2016 में...

DHONI-KOHLI CONTROVERSY: विराट कोहली और महेन्द्र सिंह धोनी के बीच 2016 में क्यों पड़ी थी ‘दरार’, जानें क्या थी विवाद की वजह, पूर्व फील्डिंग कोच ने किया सनसनीखेज खुलासा

319

DHONI-KOHLI CONTROVERSY: टीम इंडिया के 2 सबसे सफलतम कप्तान एक महेन्द्र सिंह धोनी तो दूसरा विराट कोहली… इन दो पूर्व दिग्गज कप्तानों ने भारतीय क्रिकेट टीम का नेतृत्व करते हुए ना जाने कितनी ही जीत की कहानी लिखी। जिसने भारतीय क्रिकेट फैंस को सीना फुलाने का मौका दिया। एक ने जहां लिमिटेड ओवर्स की क्रिकेट में 3 आईसीसी और विश्व खिताब दिलाएं तो वहीं दूसरे कप्तान ने टेस्ट क्रिकेट में सालों तक नंबर वन बनाए रखा। लेकिन इन दो पूर्व दिग्गज कप्तानों के बीच एक ऐसी तकरार हुई थी जिसने भारतीय क्रिकेट को हिला कर रख दिया था।

DHONI-KOHLI
DHONI-KOHLI (Source_We Magazine)

आपको याद ही होगा, साल 2016 का विवाद, जहां मीडियो में महेन्द्र सिंह धोनी और विराट कोहली के बीच दरार की चर्चा खूब चली। इस खबर ने भारतीय क्रिकेट की विश्व क्रिकेट के सामने भद्द पिटवायी थी। इसका टीम इंडिया को बड़ा नुकसान भी उठाना पड़ा था। बाद ये विवाद विराट कोहली को सीमित ओवर्स की कप्तानी मिलने के बाद धीरे-धीरे कैसे शांत हो गया पता ही नहीं चला। 2017 में महेन्द्र सिंह धोनी ने वनडे और टी20 कप्तानी को भी छोड़ दिया और विराट कोहली नए कप्तान बन गए और इसके साथ ही ये विवाद भी दब गया।

धोनी-विराट के 2016 के विवाद को लेकर बड़ा खुलासा, क्या थी विवाद की वजह

एक बार फिर से धोनी-विराट की इस कॉन्ट्रोवर्सी की चर्चा होने लगी है। इस विवाद को लेकर एक बड़ा खुलासा हुआ है, जिसके बाद आप भी जान जाएंगे कि उस विवाद का क्या कारण था और इस धोनी और विराट के बीच बनी इस दरार को किसने खत्म करने का काम किया।

जी हां… करीब 6 साल के बाद एक बार फिर से इस खबर ने सभी का ध्यान फिर से आकर्षित किया है। जहां भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व फील्डिंग कोच आर श्रीधर ने बड़ा खुलासा किया है। एस श्रीधर ने अपनी किताब ‘कोचिंग बियॉन्ड’ में बताया कि माही और विराट के रिश्तों में कैसे खटास आयी और इस खटास को कितने दूर किया।

पूर्व फील्डिंग कोच ने कहा, कोहली लिमिटेड क्रिकेट में भी थे कप्तानी को लेकर उतावले

उन्होंने बताया कि विराट कोहली टेस्ट कप्तानी मिलने के बाद से ही वनडे और टी20 क्रिकेट में भी कप्तानी को लेकर काफी उतावले दिखे, तभी इनके बीच ये विवाद बढ़ता चला गया। जब इसकी जानकारी पूर्व कोच रवि शास्त्री को बता चली तो रवि शास्त्री का बड़ा रोल रहा। उन्होंने विराट से बात करते हुए समझाया।

Dhoni-Kohli(Source_Business Standard)

रवि शास्त्री ने विराट कोहली को समझाया, वो करें कप्तान का सम्मान

श्रीधर की किताब के अनुसार साल 2016 में एक समय ऐसा आया कि जब टेस्ट कप्तान बनने के बाद विराट कोहली लिमिटेड ओवर्स क्रिकेट के कप्तान बनने को लेकर काफी उतावले हो रहे थे। कोहली ने कुछ ऐसी बातें कहीं थी जो इस बात का इशारा कर रहीं थी कि वो लिमिटेड ओवर्स क्रिकेट की कप्तानी अब धोनी से चाहते हैं। इस तरह विराट के रवैये को देखकर एक शाम में उन्हें रवि शास्त्री ने फोन किया। शास्त्री ने फोन पर कोहली को समझाया कि देखिए धोनी ने आपको टेस्ट क्रिकेट की कप्तानी दे दी है। ऐसे में धोनी आपको ही लिमिटेड ओवर्स क्रिकेट की कप्तानी देंगे। लेकिन इसके लिए वह(कोहली) सही समय का इंतजार करें। और इसलिए आपको उनका सम्मान करना चाहिए।

श्रीधर ने आगे बताया कि ‘शास्त्री ने उन्हें समझाया’ कि, अगर आप धोनी यानि टीम के कप्तान का सम्मान नहीं करेंगे तो फिर कल जब आप कप्तान बनेंगे तो टीम के खिलाड़ी आपका सम्मान नहीं करेंगे। फिर आप चाहें कुछ भी क्यों ना कर रहे हो। ऐसे में कप्तानी आपके पास ही आएगी लेकिन आपको उनका सम्मान करना सीखना होगा।