Virat Kohli
Virat Kohli(Source_ZEE5)

ASIA CUP 2022: भारतीय क्रिकेट टीम के दिग्गज बल्लेबाज विराट कोहली इन दिनों सबसे ज्यादा चर्चा बटोर रहे हैं। रन मशीन के रूप में अपनी पहचान ना चुके विराट के करियर पर नज़र डाले तो बहुत ही अभूतपूर्व रहा है, लेकिन मौजूदा दौर में वो अपने करियर के सबसे खराब दौर से गुजर रहे है, जिनका बल्ला उनसे कुछ ऐसा रूठा हुआ है, जो मानने का नाम नहीं ले रहा है।

विराट कोहली को है अपनी फॉर्म की तलाश

किंग कोहली लगातार रनों की तलाश में जूझ रहे हैं, उन्होंने पिछले कुछ समय से अपनी लय को पाने के लिए हरसंभव कोशिश की है, लेकिन उन्हें निराशा ही हाथ लगी है। वो पिछले 1000 से ज्यादा दिन से कोई शतक नहीं लगा सके हैं, वहीं पिछले 5 महीनों से कोई इंटरनेशनल फिफ्टी नहीं जड़ सके हैं। ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि ये दिग्गज बल्लेबाज किस दौर से गुजर रहा है।

एशिया कप के पहले ही मैच में कोहली पा सकते हैं विराट फॉर्म

विराट कोहली करीब एक महीनें के ब्रेक के बाद तरोताज़ा होकर एशिया कप में मैदान में उतर रहे हैं। भारत को अपना पहला मैच पाकिस्तान के खिलाफ खेलना है। 28 अगस्त को होने वाले इस हाई वॉल्टेज मुकाबले में इस हाई प्रोफाइल खिलाड़ी पर सबसे ज्यादा नजरें रहेंगी, क्योंकि हर कोई उनकी फॉर्म में वापसी की उम्मीद कर रहा है।

रनों के शहंशाह बन चुके विराट कोहली के लिए कुछ साल पहले तक फॉर्म में वापसी करना बाएं हाथ का खेल माना जाता था, लेकिन मौजूदा वक्त में उनका लय में आने बहुत बड़ी चुनौती बन गया है। लेकिन एशिया कप में उनकी फॉर्म में वापसी तय दिख रही है, क्योंकि एक बात उनके फेवर में है, वो हैं पाकिस्तान के खिलाफ आंकड़े। उन्हें टी20 फॉर्मेट में पाक गेंदबाज उन्हें खूब रास आते रहे हैं।

पाकिस्तान के खिलाफ खूब बोला है विराट का बल्ला

विराट कोहली इन दिनों अपनी सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में नहीं है, ये बात तो सही है लेकिन पाकिस्तान के खिलाफ कोहली का बल्ला अलग ही रूप अख्तियार कर लेता है। इतिहास इस बात की गवाही दे रहा है कि विराट जब-जब भी पाकिस्तान के खिलाफ टी20 फॉर्मेट में उतरे हैं कमाल किया है।

उन्होंने पाक के खिलाफ पिछली 2 टी20 पारियों में फिफ्टी जड़ी है, वहीं इस टीम के खिलाफ अब तक खेले 7 मैचों में 77.75 की जबरदस्त औसत के साथ 311 रन बनाए हैं। इन आंकड़ों को देखकर उम्मीद जतायी जा सकती है कि वो पहले ही मैच में अपनी खोई लय हासिल कर धमाका कर सकते हैं। अब ये देखना दिलचस्प होगा कि वो इन आंकड़ो को आगे बढ़ा सकते हैं या फिर से उन्हें निराश होना पड़ेगा।